मानव तस्करी को रोकने हेतु महिला आयोग ने आयोजित की चार जिलों की संयुक्त एक दिवसीय कार्यशाला

0
26

*मानव तस्करी को रोकने हेतु महिला आयोग ने आयोजित की चार जिलो की संयुक्त एक दिवसीय कार्यशाला*

उत्तराखण्ड राज्य महिला आयोग द्वारा राष्ट्रीय महिला आयोग के सहयोग से आज दिनाँक 27.8.2022 ऋषिकेश के नगर निगम कांफ्रेंस हॉल में मानव तस्करी को रोकने हेतु एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित कराई गई।
इस एक दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ महिला आयोग उत्तराखण्ड की माननीय अध्यक्षा श्रीमती कुसुम कण्डवाल जी द्वारा किया गया।
यह कार्यशाला जिला हरिद्वार, जिला देहरादून, जिला टिहरी गढ़वाल व जिला पौड़ी गढ़वाल की संयुक्त रूप से थी।
एक दिवसीय कार्यशाला में मानव तस्करी के विषय में जानकारी दी गई इस विषय पर चर्चा की गई। मानव तस्करी को रोकने हेतु किस प्रकार सभी विभागों के आपसी सहयोग से कार्य हो। समस्त विभागों द्वारा जानकारी साझा की गई ।
यह कार्यशाला 2 चरणों मे की गई। प्रथम चरण में तस्करी को रोकने के लिए इस विषय के विशेषज्ञ श्री ज्ञानेन्द्र कुमार द्वारा विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा व जानकारी दी गयी। ट्रेनिंग प्रोग्राम के फेसिलिटेटर श्री ज्ञानेंद्र द्वारा प्रेजेंटेशन द्वारा तस्करी के कारणों, सहयोगी चैन व प्रक्रिया के तथा साथ ही उसको रोकने के बारे में बताया, वहीं दूसरे चरण में सर्वोच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता श्री योगेश वी. नैय्यर जी द्वारा कानूनी जानकारी प्रदान की गई।

इस एकदिवसीय कार्यशाला में महिला आयोग उत्तराखण्ड की सदस्य सचिव कामिनी गुप्ता, नगर निगम आयुक्त, जिला प्रोबेशन अधिकारी – टिहरी, पौड़ी, हरिद्वार, देहरादून सहित मानव तस्करी रोधी यूनिट- टिहरी, देहरादून व रेलवे पुलिस अधिकारी, चाइल्ड लाइन अधिकारी, पर्यटन अधिकारी, चिकित्सा अधिकारी, शिक्षा विभाग के अधिकारी, विधिक सेवा अधिकारी व सभी जिलों के वन स्टॉप सेन्टर के अधिकारी उपस्थित रहे।
महिला आयोग की अध्यक्षा कण्डवाल जी द्वारा कहा गया कि महिला आयोग यह प्रयास उत्तराखण्ड की अनेकों बच्चियों व महिलाओं को बचाने का काम करेगा जो कि इस से पीड़ित हैं या हो सकती है। आयोग की अध्यक्षा ने उपस्थित सभी विभागों को आदेश भी दिए की विभाग के अधिकारी अपने अपने क्षेत्र के सभी जनप्रतिनिधियों से ग्रासरूट पर जानकारी लेंगे यदि इस प्रकार की कोई भी घटना आसपास घट रही है तो उस विषय मे सभी विभाग सामंजस्य बनाते हुए ट्रेफेकिंग को रोकने का काम करें । राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा श्रीमती कुसुम कण्डवाल जी द्वारा बताया गया कि मानव तस्करी को रोकने के लिए प्रत्येक जिले के अधिकारियों व विभागों को आयोग की तरफ से यह ट्रेनिंग कार्यशाला के द्वारा दी जानी है। जिसमे से यह कुमाऊं के नैनीताल, चम्पावत उधमसिंहनगर में करा दी गयी है। आज गढ़वाल के चार जिलों की कार्यशाला हो गयी है। अगले माह तक सभी जिलों में यह कार्यशाला कर दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here