Image: Twitter/ Anwar Lodhi
1 min read

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ दुष्प्रचार को बढ़ावा देने बाज नहीं आ रहा। फिर एक बार घटिया हरकत करते हुए पाकिस्तान ने वॉर म्यूजियम में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का पुतला लगाया है, जिसमें एक पाकिस्तानी सैनिक उन्हें घेरे हुए दिख रहा है।

यह भी पढ़ें :  पूरे प्रदेश में मैं अकेला नाबालिग कारसेवक था

इस बाबत पाकिस्तान के पत्रकार और राजनैतिक टिप्पणीकार अनवर लोधी ने ट्विटर पर आईएएफ पायलट वर्तमान की तस्वीर पोस्ट की है। लोधी ने लिखा, “पाकिस्तानी सेना ने संग्रहालय में अभिनंदन का पुतला लगाया है। इसे और दिलचस्प बनाया जा सकता था, अगर पुतले के हाथ में शानदार चाय का कप पकड़ा दिया जाता।” दरअसल, पाकिस्तान की कैद में रहने के दौरान अभिनंदन का एक वीडियो जारी हुआ था, जिसमें वह चाय पीते हुए नजर आए थे। तब पाकिस्तानी अफसर के सवाल के जवाब में उन्होंने कहा था, “चाय शानदार है, धन्यवाद।”

लोधी ने ट्विटर पर जो तस्वीर शेयर की, उसमें अभिनंदन के पुतले के बाजू में एक मग रखा हुआ दिख रहा है। उन्हें पीछे पाकिस्तानी सैनिक खड़ा दिख रहा है। पूरा प्रदर्शन कांच के बक्से में रखा गया है। भारत और पाकिस्तान के बीच विश्व कप मुकाबले से पहले भी एक पाकिस्तानी चैनल के विज्ञापन में अभिनंदन का फूहड़ मजाक उड़ाया गया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर उसकी खासी आलोचना भी हुई थी। यह विज्ञापन अभिनंदन के पाकिस्तान की कैद में रहने पर आधारित था।

यह भी पढ़ें :  सोशल मीडिया चैनलों से ज्यादा जिम्मेदार निकला…

फरवरी में बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद 24 फरवरी को पाकिस्तान ने जवाबी हमला किया था। इस दौरान अभिनंदन ने अपने मिग-21 से पाकिस्तान के एफ-16 का पीछा किया था। उन्होंने भारतीय सीमा में घुस आए पाकिस्तानी एफ-16 को खदेड़ भी दिया था। लेकिन दोनो देशों के विमानों के बीच हुई झड़प (डॉग फाइट) में उनका मिग-21 विमान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। अभिनंदन विमान से सफलतापूर्वक बाहर निकलने में कामयाब रहे, लेकिन उन्हें पाकिस्तान की सेना ने हिरासत में ले लिया था। गिरने से पहले उन्होंने एक पाकिस्तानी एफ-16 को मार गिराया था।

यह भी पढ़ें :  करतारपुर कॉरिडोर से श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना, मोदी ने इमरान खान को शुक्रिया कहा

पाकिस्तान की कैद में रहने के दौरान अभिनंदन के वीडियो वायरल हुए थे। इसके बाद भारत सरकार ने अंतरराष्ट्रीय नियमों के मुताबिक पायलट की सुरक्षित वापसी की मांग की थी। दो दिन तक कैद में रखने के दौरान पाकिस्तान ने उन्हें 1 मार्च को छोड़ दिया था। अभिनंदन को अटारी-वाघा बॉर्डर से वापस लाया गया था।

अपनी राय हमें contact@yugsakshi.com के जरिये भेजें। फेसबुकट्विटर और यूट्यूब पर हमसे जुड़ें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here