भाजपा कांग्रेस राज्य को लूटने में मस्त,वरिष्ठ अधिवक्ता दीपक गैरोला सैकडों साथियों सहित दल में शामिल

Published by: 0

IMG-20171105-WA0087

उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय कार्यालय में उक्रांद सुप्रीमो श्री दिवाकर भट्ट ने एक पत्रकार वार्ता के दौरान कहा कि राष्ट्रीय पार्टियों ने अपने कर्मों से राज्य स्थापना दिवस को उत्साहविहीन बना दिया है। श्री दिवाकर भट्ट ने कांग्रेस और भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि इन दोनों पार्टियों के राज्य के प्रति लापरवाही और सत्ता की लूट खसोट के कारण पृथक राज्य की अवधारणा के मुताबिक नीतियां नहीं बन पाई। जिसका खामियाजा प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ रहा है।उन्होंने कहा कि जिस राज्य में सरकार की गलत नीतियों के कारण किसान आत्महत्या कर रहा है,जिस राज्य को स्वावलंबी बनाने में सहायक सारे संसाधन (परिसंपत्तियां)जबरन छीन लिए गए हो,जिस राज्य का निर्माण में अपना सर्वोच्च बलिदान देने वाली मात्र शक्तियों के ऊपर शराब माफियाओं के इशारे पर मुकदमे दर्ज किए गए हों, जिस राज्य में भूमाफियाओं के इशारों पर जनप्रतिनिधियों की आवाज को दबाते हुए जबरन निर्णय थोपे जाते हो,वह राज्य राज्य गठन की खुशी कैसे मना सकता है?
राष्ट्रीय दलों के कुकर्मो से राज्य स्थापना दिवस महज एक औपचारिकता बनकर रह गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत का राज्य में 3000 प्राइमरी स्कूलों को बंद करने का बयान इस बात का सबसे बड़ा सबूत है,कि वर्तमान में भी पहाड़ों में शिक्षा,चिकित्सा, रोजगार जैसी बुनियादी चीजों के अभाव के कारण जबरदस्त पलायन हो रहा है। 3000 स्कूलों का बंद होना साफ तौर से इस बात का संकेत है कि पहाड़ो मे हजारों गांव जनता विहीन हो चुके हैं। किसानों के ऋण माफी के मामले में प्रदेश के मुखिया साफ बता चुके हैं कि उन्हें किसानों की समस्याओं से कोई लेना देना नहीं इसलिए ऋण माफ किसी हाल में नहीं होगा।राज्य का युवा बेरोजगार पूरी तरह हताश और निराश है।
17 वर्ष में उत्तराखंड नें क्या खोया, क्या पाया नामक विमर्श कार्यक्रम के मंच पर सपा और उक्रांद नेताओं की मौजूदगी के पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में श्री दिवाकर भट्ट ने कहा कि कांग्रेस के किशोर उपाध्याय द्वारा यह एक सर्वदलीय कार्यक्रम आयोजित किया गया था और यह मात्र एक डिबेट थी। इससे ज्यादा इस बात के कोई राजनीतिक मायने नहीं निकाले जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि दल भविष्य में किसी भी दल से गठबंधन की चर्चा में शामिल ही नहीं होगा। श्री भट्ट ने कहा कि समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन की बात दल का कोई भी नेता अथवा पदाधिकारी सपने में भी नहीं सोच सकता। यह मुश्किल ही नहीं नामुमकिन भी है। पत्रकार वार्ता में मौजूद उक्रांद संरक्षक श्री काशी सिंह ऐरी ने कहा कि राज्य आंदोलनकारियों पर बर्बरता पूर्वक गोली कांड के दोषी तत्काल जिलाधिकारी अनंत कुमार को बेकसूर साबित करवाने में भाजपा की बहुत बड़ी भूमिका रही है।
इसके साथ ही एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम के तहत उत्तराखंड क्रांति दल डेमोक्रेटिक ने उत्तराखंड क्रांति दल को राज्य के हित में एकमात्र क्षेत्रीय दल मानते हुए यूकेडी में विलय कर लिया है। उक्रांद डी के केंद्रीय अध्यक्ष श्री दीपक गैरोला आज अपने समर्थकों के साथ विधिवत रूप से विलय की घोषणा करते हुए यूकेडी में शामिल हुए।दल पुराने कार्यकर्ता व वरिष्ठ अधिवक्ता दीपक गैरोला को जल्दी ही महत्वपूर्ण पद की जिम्मेदारी से नवाजेगी। इसके साथ ही जोहड़ी गांव निवासी सूबेदार मेजर(सेवानिवृत्त) व वर्तमान में पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी में प्रशासनिक अधिकारी के रुप में तैनात श्री जयदीप सिंह थापा ने भी यूकेडी की सदस्यता ग्रहण करी। दल के महानगर अध्यक्ष संजय क्षेत्री ने उन्हें महानगर उपाध्यक्ष के पद पर मनोनीत किया। आज की पत्रकार वार्ता में शक्ति शैल कपूरवाण, काशी सिंह ऐरी,जय प्रकाश उपाध्याय,संजय क्षेत्री,किशन सिंह रावत, हरीश पाठक, अनीता शास्त्री, रामेश्वरी चौहान ,वाहिद खान आदि मुख्य रूप से शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *